आर्कसर्व ने निखिल कोरगांवकर को भारत में रीजनल सेल्स डायरेक्टर नियुक्त किया

अनुभवी प्रबंधक को उच्च संभावना वाले बाजार में डाटा प्रोटेक्शन स्पेशलिस्ट की पहुंच स्थापित करने और उसका विस्तार करने का जिम्मा दिया गया

logoक्लाउड, वर्चुअल और भौतिक माहौल के लिए सरल, एकीकृत डाटा प्रोटेक्शन के बाजार के पहले प्रदाता आर्कसर्व (Arcserve) ने निखिल कोरगांवकर को भारत में रीजनल सेल्स डायरेक्टर नियुक्त करने का एलान किया है। अपनी इस भूमिका में निखिल भारत में डाटा प्रोटेक्शन स्पेशलिस्ट के बिक्री प्रयासों का नेतृत्व करेंगे। आर्कसर्व भारत को एक प्रमुख बाजार के रूप में देखता है जहां विकास की उच्च संभावना है। निखिल वेरीटास से आर्कसर्व में आए हैं जहां वे भिन्न मैनजमेंट और अलायंस पदों पर थे।

निखिल कोरगांवकर को 16 साल से ज्यादा का अनुभव है। इस दौरान उन्होंने क्रॉस फंक्शनल टीम बनाने और उसे प्रेरित करने पर ध्यान दिया है तथा इसके साथ-साथ पार्टनर और ग्राहक संबंध का प्रबंध और उसे आगे बढ़ाने का काम कई तरह के उद्योगों में किया है। वेरीटास में वे चैनल सेल्स टीम को दुरुस्त करने के साथ-साथ चैनल का आत्मविश्वास बनाने तथा भारत में बाजार जाओ (गो टू मार्केट) रणनीति बनाने के लिए जिम्मेदार थे। यह सिमांटेक से कंपनी के अलग होने से पहले की बात है। 2013 में सिमांटेक से जुड़ने से पहले वे सात साल तक डेल में भिन्न अग्रणी क्षेत्रीय पदों पर थे। वहां इन्हें कंपनी के सबसे सफल प्रबंधकों में से एक माना जाता था। डेल के उनके कार्यकाल की उल्लेखनीय उपलब्धियों में भारत में एसएमबी कारोबार का प्रबंध और उसका विकास शामिल है। इसमें इसे हाईब्रिड मॉडल की ओर ले जाना, डायरेक्ट (प्रत्यक्ष) और इनडायरेक्ट (परोक्ष) बिक्री शामिल है। इससे उत्पादकता में अच्छे खासे सुधार हुए थे।

सूचना तकनालाजी उद्योग की अपनी जानकारी के अलावा निखिल कोरगांवकर हेल्थकेयर और अंतरराष्ट्रीय लॉजिस्टिक्स जैसे भिन्न उद्योगों में बहुराष्ट्रीय निगमों के साथ काम करने के अपने अनुभव का उपयोग आर्कसर्व में भी करेंगे। निखिल कोरगांवकर मुंबई विश्वविद्यालय से बैचलर ऑफ इंजीनियरिंग (इंस्ट्रूमेंटेशन) की पढ़ाई पूरी करके स्नातक हुए हैं। उनके पास सिडेनहैम इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज से मैनेजमेंट की पढ़ाई में स्नातकोत्तर की डिग्री है। वे इनसीड के भी पूर्व छात्र हैं और वहां से एक्जीक्यूटिव एमबीए की पढ़ाई की है।

आर्कसर्व में रीजनल सेल्स डायरेक्टर इंडिया निखिल कोरगांवकर ने कहा, “मुझे खुशी है कि आर्कसर्व में अपनी भूमिका के तहत मैं अपने अनुभव का उपयोग मैं ग्राहकों की सहायता करने में कर सकूंगा तथा इससे वे जटिल कारोबारी चुनौतियों का सामना कर सकेंगे और अपने कॉरपोरेट लक्ष्य हासिल कर सकेंगे।” उन्होंने आगे कहा, भारतीय डाटा प्रोटेक्शन बाजार संभावनाओं से भरा हुआ है क्योंकि कंपनियां यह सुनिश्चित करने के लिए परेशान रहती हैं कि उनके पास सही टेक्नालॉजी है कि नहीं और यह ना सिर्फ डाटा की रक्षा के लिए जरूरी है बल्कि लगातार बढ़ते राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय नियमों से तालमेल में रहने के लिए भी आवश्यक है। मुझे खुशी है कि मैं चैनल के साथ काम करूंगा और ग्राहकों को यह दिखाने की चुनौती रहेगी कि कैसे आर्कसर्व के डाटा प्रोटेक्शन समाधान उन्हें अभी और भविष्य में अपनी ऐसेट (परिसंपत्तियों) की रक्षा करने में सहायता मिलेगी।”

Leave a Reply